Gandhi Jayanti Patriotic Poems Kavita in Hindi for students

0
171

Gandhi Jayanti Patriotic Poems Kavita in Hindi for students:- India Got Independence by the Indian leader Gandhi Ji on 15th August 1947. India Got Independence, Jinnah became the first Governor-General of Pakistan. That time also having Indian leader Gandhi Ji Short Story in Hindi and Poems In Hindi which is made by that time of people and Information In Hindi about the Gandhi Ji in this post. Indian leader Gandhi Ji is a famous person by his hard work against the Country. Information is Indian leader Gandhi Ji is a kind of given a name of Gandhi Ji. He was a freedom fighter also. There in the post, we are given a content In Hindi about the main Information about Gandhi Jayanti Patriotic Poems Story in Hindi which is many types of languages available like Hindi Short Story about the Gandhi jayanti, Short Story in Marathi, Mahatma Gandhi Ji Short Story in Punjabi and Bapu Ji Short Story in Gujarati. Indian leader Gandhi Ji we are called a Gandhi Ji just because of work which is kept for the world.

 

Gandhi Ji Bio Information In Hindi

Indian leader Gandhi Ji Bio information In Hindi we are also provided with this content. Information about the Gandhi Ji In Hindi or information about his life In Hindi, information about his struggles In Hindi, information about this which is provide that time where Gandhi is present in India and having a struggle with our country which is result were found today we are live independent country or create a development country Indian leader Gandhi Ji Short Story In Hindi, 2 October Poems In Hindi Mohandas Karamchand Gandhi Ji Biography In Hindi Information In Hindi. India is developing a country where all people will be having something new which is found you our site GANDHI JAYANTI SMS any kind of Information you want then visit our site.

राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी का पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था। हम उन्‍हें प्‍यार से बापू पुकारते हैं। इनका जन्‍म 2 अक्‍टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ। सभी स्‍कूलों और शासकीय संस्‍थानों में 2 अक्‍टूबर को इनकी जयंती मनाई जाती है। उन्‍हीं के प्रेरणा से हमारा देश 15 अगस्‍त 1947 को आजाद हुआ।गांधीजी के पिता करमचंद गांधी राजकोट के दीवान थे। इनकी माता का नाम पुतलीबाई था। वह धार्मिक विचारों वाली थी।एक बार गांधीजी मुकदमे की पैरवी के लिए दक्षिण अ‍फ्रीका भी गए थे। वह अंग्रेजों द्वारा भारतीयों पर अत्‍याचार देख बहुत दुखी हुए। उन्‍होंने डांडी यात्रा भी की।गांधीजी की 30 जनवरी को प्रार्थना सभा में नाथूराम गोडसे ने गोली मारकर हत्‍या कर दी। महात्‍मा गांधी की समाधि राजघाट दिल्‍ली पर बनी हुई है।

Gandhi Jayanti Patriotic Poems Kavita in Hindi for students

Gandhi Jayanti Patriotic Poems in Hindi for kids students

Here you can download Gandhi Jayanti Patriotic Poems in Hindi which is also in different languages you are share on your languages which is make Gandhi jayanti 2016 with the respect of the Gandhi Ji. Gandhi Ji Biography information or Bapu Ji jevani Jivani in Hindi also download in a lot of languages which is provide our post. Gandhi jayanti 2016 we will celebrate with the short story, poems, and biography about the Indian leader which is called a Gandhi Ji. Father of the Nation Biography in Hindi is told about the person and his life what he wants in his life that type we also provide a biography In Hindi about the Mahatma Gandhi Ji. There is various type Indian leader Gandhi Ji biography like long biography, short biography In Hindi, paragraph biography In Hindi, an article with biography In Hindi and speech type of biography information In Hindi. The short story also downloads which is provide a small story about the Gandhi jayanti like Satyagraha time short story In Hindi, leadership short story In Hindi, speech short story In Hindi.

संसार पूजता जिन्हें तिलक,
रोली, फूलों के हारों से,
मैं उन्हें पूजता आया हूँ
बापू! अब तक अंगारों से।

अंगार, विभूषण यह उनका
विद्युत पीकर जो आते हैं,
ऊँघती शिखाओं की लौ में
चेतना नयी भर जाते हैं।

उनका किरीट, जो कुहा-भंग
करके प्रचण्ड हुंकारों से,
रोशनी छिटकती है जग में
जिनके शोणित की धारों से।

झेलते वह्नि के वारों को
जो तेजस्वी बन वह्नि प्रखर,
सहते ही नहीं, दिया करते
विष का प्रचण्ड विष से उत्तर।

अंगार हार उनका, जिनकी
सुन हाँक समय रुक जाता है,
आदेश जिधर का देते हैं,
इतिहास उधर झुक जाता है।

Gandhi Jayanti Patriotic Poems Kavita in Hindi for students

Gandhi Jayanti Paragraph in Hindi

Here we are given a more for small kids for the school function Indian leader Gandhi Ji poems In Hindi. Poems are also having different languages like Hindi poems in students, Marathi poems for kids, Gujarati poems for fb and Punjabi poems also available. We are most information for Gandhi poems In Hindi is very famous for the small kid poem In Hindi small student learn when they study small classes. We provide an information about the poem various languages and different style fonts which are making a Gandhi jayanti in this year 2016.

महात्मा गांधी  के नाम से लोकप्रिय मोहनदास कर्मचंद गांधी का जन्म 2 अक्टूबर, 1869 को पोरबंदर गुजरात में हुआ था. पोरबंदर उस समय ब्रिटिश शासन के अंतर्गत बंबई प्रेसिडेंसी का एक भाग था. उनके पैतृक घर को आज कीर्ति मंदिर के नाम से जाना जाता है. महात्मा गांधी के पिता कर्मचंद गांधी पोरबंदर राज्य के दीवान थे. उस समय समाज में बाल विवाह का प्रचलन था. इसी प्रथा का अनुसरण करते हुए बाल्यावस्था में ही महात्मा गांधी का विवाह कस्तूरबा गांधी से संपन्न हुआ था. कस्तूरबा गांधी को महात्मा गांधी के अनुयायी और जनता “बा” के नाम से पुकारती थी. जब  पंद्रह वर्ष के थे तब उनकी पहली संतान का जन्म हुआ. लेकिन कुछ ही दिनों में उसकी मृत्यु हो गई. इस घटना के एक वर्ष के भीतर ही मोहनदास कर्मचंद के पिता का भी निधन हो गया था. इसके बाद कस्तूरबा गांधी और महात्मा गांधी के चार पुत्र हुए. एक औसत विद्यार्थी के तौर पर महात्मा गांधी ने पोरबंदर से प्राथमिक और राजकोट से हाई स्कूल की परीक्षा उत्तीर्ण की थी. मोहनदास कर्मचंद का परिवार उन्हें बैरिस्टर बनाना चाहता था. लेकिन वह पढ़ाई में ज्यादा रुचि नहीं रखते थे. इसीलिए कई परेशानियों के बाद उन्होंने भावनगर स्थित सामलदास कॉलेज से मैट्रिक की परीक्षा पास की. 4 सितंबर, 1888 को गांधी जी लंदन स्थित यूनिवर्सिटी कॉलेज में कानून की पढ़ाई करने और बैरिस्टर की ट्रेनिंग लेने के लिए इंगलैंड चले गए. लंदन में रहने के दौरान महात्मा गांधी ने अपने पहनावे और बोलचाल में विदेशी संस्कृति को ग्रहण कर लिया था लेकिन खान-पान के मामले में वह शुद्ध शाकाहारी ही थे. किंतु जल्द ही उन्हें अपनी माता के गुजर जाने का समाचार प्राप्त हुआ. उन्हें वापस भारत आना पड़ा.

Gandhi Jayanti Patriotic Poems Kavita in Hindi for students

अहिंसा को अपना धर्म मानने वाले मोहनदास कर्मचंद गांधी स्वाधीनता संग्राम के राजनैतिक और आध्यात्मिक नेता थे. सत्याग्रह, अहिंसा और सादगी को ही एक सफल मनुष्य जीवन का मूल मंत्र मानने वाले गांधी जी के इन्हीं आदर्शों से प्रभावित होने के बाद रबिंद्रनाथ टैगोर ने पहली बार उन्हें महात्मा अर्थात महान आत्मा का दर्जा दिया था. गांधी जी ने अपना जीवन सत्य की व्यापक खोज में समर्पित कर दिया था. अपने इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए उन्होंने स्वयं अपनी गलतियों पर प्रयोग करना प्रांरभ किया.  अपने अनुभवों को उन्होंने अपनी आत्मकथा “माई एक्सपेरिमेंट्स विद ट्रुथ” में संकलित किया था. अंग्रेजी शासनकाल में गांधी जी के नेतृत्व में देशभर में महिलाओं के अधिकारों और धार्मिक एवं जातीय एकता को बढ़ावा देने के लिए कई आंदोलन चलाए गए.   उन्होंने अस्पृश्यता को जड़ से समाप्त करने के लिए भी कई यात्राएं की. लेकिन विदेशी शासन से मुक्ति दिला भारत की जनता को आजाद कराना का सबसे प्रमुख लक्ष्य था. गांधी जी ने ब्रिटिश सरकार द्वारा भारतीयों पर लगाए गए नमक कर के विरोध में 1930 में दांडी मार्च और 1942 में  भारत छोड़ो आंदोलन में भारतीय स्वतंत्रा सेनानियों का नेतृत्व कर प्रसिद्धि प्राप्त की.

Click here for- Gandhi Jayanti hd wallpaper

hey, guys, I hope you are like our websites if you want a more content about the Gandhi jayanti then keep visiting our site which is provide this post. if you are like our post then keep click on SHARE and CLICK button and keep share with Facebook Whatsapp-mail and other social networking which is yours are used today. we are celebrating a Gandhi jayanti 2016 with the given a respect a Gandhi Ji.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here